DRS क्या होता है या DRS Full Form क्या है?

DRS क्या होता है या DRS Full Form क्या है? | What is DRS Or DRS Full Form in Hindi

DRS क्या होता है या DRS Full Form क्या है? (What is DRS Or DRS Full Form in Hindi): नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका हमारे ब्लॉग में. आज हम इस लेख में DRS के बारेमे जानने ज्या रहे है. बहुत सारे लोगो के मन में DRS को लेकर अलग अलग सवाल आते है. जैसे DRS kya hai? DRS Full Form Kya hai? DRS की शुरुवात कब हुई है? ऐसे बहुत से सवाल आते है.

ज्यादातर जिन लोगो को क्रिकेट पसंद है उन्ही को DRS के बारेमे जानकारी चाहिए होती है. क्यकी DRS का ज्यादा इस्तेमाल क्रिकेट में ही किया ज्याता है. तो आज हम आपको DRS से जुड़े हर सवाल का जवाब देंगे. तो चलिए जानते है डीआरएस के बारेमे.

DRS का Full Form क्या है? (DRS Full Form in Hindi)

डीआरएस को UDRS नाम से भी ज्याना ज्याता है. DRS का full Form “Decision Review System (DRS)” होता है. और हिंदी में डीआरएस का फुल फॉर्म “निर्णय की समीक्षा प्रणाली” है.

डीआरएस क्या है? (What is DRS?)

जैसे की हमने आपको DRS का फुल फॉर्म Decision Review System बताया है. डीआरएस की मदत से आप Field पर खड़े हुए अंपायर की Decision को डायरेक्ट चैलेंज कर सकते हो. आप अपना रिव्यु अंपायर के सामने रख सकते हो.

Cricket Match में हर एक टीम को DRS के 2 चांसेस दिए ज्याते है. अगर दोनों चांसेस में वह टीम असफल हो ज्याति है तो फिर उन्हें अपील करने का मौका नही दिया ज्याता है. इस रिव्यु को अपाल करने के लिए सिर्फ 15 Sec का वक्त दिया ज्याता है. एक बार आपने अपील कर दिया तो वह Decision डायरेक्ट 3rd अंपायर के पास ज्याता है.

DRS की शुरुवात कब हुई है?

इसका सबसे पहला प्रयोग ICC के द्वारा 24 नवम्बर 2009 को पाकिस्तान और न्यूज़ीलैंड के मैच में किया गया था. ODI में इसका प्रयोग जनवरी 2011 में Austrolia vs Engaland के मैच में किया गया था. उस समाया एक ही टीम इस रिव्यु का इस्तेमाल कर सकती थी.

LPW में DRS का इस्तेमाल करने से 3rd Umpire क्या देखते है?

अगर LPW में डीआरएस इस्तेमाल करते है तो सबसे पहले 3rd Umpire यह देखते है.

  1. Pitching
  2. Edge
  3. Impact
  4. Ball hitting

Pitching क्या होता है?

Pitching in DRS

पिचिंग यह होता है, जैसे विकेट के सामने आपको जो पट्टी दिखाती है उसपर गेंद पिच होनी चाहिए या फिर उसके ऑफ़साइड गेंद पिच होनी चाहिए. अगर गेंद लेफ्ट साइड की और ज्याति है तो उसे अमान्य दिया ज्याता है.

Impact क्या होता है?

Imapact in DRS

इसमें जब गेंद टिप्पा खाके आपके पाँव को टकराती है, तो उसकी जो दुरी होती है वह 40 cm तक होना बहुत जरुरी होता है. और उस गेंद का इम्पैक्ट विकेट की लाइन में है या फिर उसके बाहर है ये चेक करना बहुत ज्यादा जरुरी होता है. अगर गेंद विकेट के अन्दर है तो उसके बाद Ball Hitting Check किया ज्याता है.

Ball Hitting क्या होता है?

Ball Hitting in DRS

इसमें गेंद कहा पर लग रही है यह चेक किया ज्याता है. अगर इसमें गेंद स्टंप को कितनी लगी है ये देखा ज्याता है. अगर स्टंप को गेंद आधी लगी तो Umpire Call का Decigion लिया ज्याता है.

Umpire Call का मतलब क्या होता है?

इसका यह मतलब होता है की मैदान पर खड़े अंपायर ने जो भी Decision लिया है वाही मान्य होता है, वह Decision चाहे आउट का हो या फिर नॉट आउट का. खिलाडी को यह मानना ही पड़ता है. गेंद पूरी तरीके से मिस हो जायेगी तो नॉट आउट रहेगा, और अगर गेंद लगती है तो आउट माना ज्याता है.

Conclusion

हमने आपको इस लेख में DRS क्या होता है या DRS Full Form क्या है? | What is DRS Or DRS Full Form in Hindi के बारेमे बताया है. उम्मीद है की आपको डीआरएस के बारेमे सबकुछ जानकारी मिल गयी होगी.

अगर आपको हमने डीआरएस के बारेमे बताई गयी जानकारी अच्छी लगी तो आप हमारी Notification को ON करे. अगर DRS के बारेमे आपको कुछ सवाल आते है तो आप हमे आसानी से Comment करके पुच सकते है. अगर पोस्ट पसंद आई तो हमारे Youtube Channel को Subscribe जरुर करे. धन्यवाद….!

यह भी पढ़े:-

Leave a Comment

Your email address will not be published.